Jump to content

admin

Administrators
  • Content Count

    2,209
  • Joined

  • Last visited

  • Days Won

    130
My Favorite Songs

admin last won the day on July 23

admin had the most liked content!

Community Reputation

381 Excellent

About admin

  • Rank
    Advanced Member

Recent Profile Visitors

The recent visitors block is disabled and is not being shown to other users.

  1. सिविल सर्विस(IAS IPS IFS) 2019 में सफल (टॉप165) जैन भाई बहनों को बधाई All India Rank 1.हिमांशु जैन रैंक-4 2.रवि जैन रैंक-9 3.अजय जैन। रैंक-12 4.अनमोल जैन रैंक-14 5.अभिषेक जैन रैंक-24 6.आयुषी जैन रैंक-41 7.अमित जैन। रैंक-100 8.विशाखा जैन रैंक-101 9.मयूर खंडेलबाल जैन रैंक-106 10.नबल कुमार जैन रैंक-125 11.राघब जैन रैंक-127 12.akarshi jain रैंक-140 13.अभिषेक ओसवाल जैन रैंक-154 14.चिराग जैन रैंक-160 15.अंगद मेहता जैन रैंक-161 16.अहिंसा जैन रैंक-164 समस्त जैन समाज आप पर गर्व करता है
  2. 🙏🏼श्री आदिनाथ भगवान🙏🏼 🙏🏼आचार्य श्री मानतुंगजी🙏🏼 Jai Jinendra🙏🏼 Led by Dr. Manju Jain, Bhaktamar North America Team organized the first 24-hour Bhakatamar Jaap with goal of 108 times chanting during Sat Aug 1st at 6 am ET/11 am BST/3 am PT/3:30 pm IST respectively. Kritagyosmi to the 1,927 attendees that participated in the first Bhakatamar Stotra Jaap 24hr-108 times during Aug 1st to Aug 2nd and accomplished chanting over 324 times exceeding our initial goal of 108 times in 24-hours. Sincerely, Bhaktamar North America Team 1. Apurva Shah, NJ 2. Alpa Shah, NJ 3. Aparna Jain, CA 4. Gaurav Jain, Bharat 5. Harsha & Jay Patel, MA 6. Dr. Manju Jain, Bharat 7. Priti Nahar, Canada 8. Saurabh Jain, Bharat 9. Sid Jain, NY 10. Plus soulful rendition from Dr Anita Agarkarji and her daughters Arohi and Rageshree at the start and end of Jaap. Kritagyosmi to every one!!! *Micchami Dukkadam if knowingly or unknowingly, intentionally or unintentionally, either through our actions or words we may have hurt your feelings or caused you pain! We seek forgiveness and we forgive everyone!* More videos will be added soon
  3. क्या तत्वार्थ सूत्र स्वाध्याय में परीक्षा भी आयोजित होनी चाहिये ? क्या आप परीक्षा में भाग लेंगे ? अगर प्रतियोगिता में उपहार न हो, क्या आप फिर भी भाग लेंगे ? ---------- यहाँ पर उत्तर देने के लिए आपको इस वेबसाइट पर अकाउंट बनाना पड़ेगा इस समूह तत्वार्थ सूत्र स्वाध्याय से जुड़ना होगा क्या आपके पास आचार्य श्री विद्यासागर मोबाइल एप्प इनस्टॉल हैं ? https://play.google.com/store/apps/details?id=com.app.vidyasagar&showAllReviews=true
  4. जय जिनेन्द्र बन्धुओं, आज २६ जुलाई, दिन रविवार, श्रावण शुक्ल सप्तमी शुभ तिथि को २३ वें तीर्थंकर देवादिदेव श्री १००८ पार्श्वनाथ भगवान का मोक्ष कल्याणक पर्व है- पार्श्वनाथ भगवान जन-जन के इष्ट भगवान हैं। सभी जिनालयों में पार्श्वनाथ भगवान की प्रतिमा रहती ही हैं। श्रावक सबसे ज्यादा स्मरण पार्श्वनाथ भगवान को ही करते हैं अतः भगवान पार्श्वनाथ का मोक्ष कल्याणक पर्व (मोक्ष सप्तमी पर्व) भी बड़े ही उत्साह व श्रद्धा भक्ति के साथ मनाया जाता है- 🙏🏻 आज पार्श्वनाथ भगवान की पूजन अत्यंत भक्ति-भाव कर भगवान का मोक्ष कल्याणक पर्व मनाएँ। इस वर्ष शास्वत भूमि सम्मेदशिखर जी जाना संभव नहीं है अतः यही से स्वर्णभद्र कूट का स्मरण कर भगवान को निर्वाण लाडू समर्पित करें।
  5. ☀️ आज गर्भ कल्याणक पर्व है ☀️ जय जिनेन्द्र बंधुओं, कल २२ जुलाई, दिन बुधवार, श्रावण शुक्ल द्वितीया शुभ तिथि को ५ वें तीर्थंकर देवादिदेव श्री १००८ सुमतिनाथ भगवान का गर्भ कल्याणक पर्व है- 🙏🏻 आज अत्यंत भक्ति-भाव से देवादिदेव श्री १००८ सुमतिनाथ भगवान की पूजन कर गर्भ कल्याणक पर्व मनाएँ। ☀️ तीर्थंकरों के जीवन की ऐसी घटना जो अन्य जीवों के कल्याण का आधार बनती हैं कल्याणक कहलाते हैं। वर्तमान में साक्षात में तो भगवान के कल्याणक देख पाना संभव नहीं अतः कल्याण पर्वों के शुभ अवसर पर भगवान की भक्ति, पूजन आदि द्वारा पुण्योपार्जन करना चाहिए। 🙏🏻 सुमतिनाथ भगवान की जय🙏🏻 🙏🏻 गर्भ कल्याणक पर्व की जय🙏🏻
  6. जय जिनेन्द्र बंधुओं, आज १५ जुलाई, दिन बुधवार, श्रावण कृष्ण दशमी शुभ तिथि को १७ वें तीर्थंकर देवादिदेव श्री १००८ कुन्थुनाथ भगवान का गर्भ कल्याणक पर्व है- 🙏🏻 आज अत्यंत भक्ति-भाव से देवादिदेव श्री १००८ कुन्थुनाथ भगवान की पूजन कर गर्भ कल्याणक पर्व मनाएँ। ☀️ तीर्थंकरों के जीवन की ऐसी घटना जो अन्य जीवों के कल्याण का आधार बनती हैं कल्याणक कहलाते हैं। वर्तमान में साक्षात में तो भगवान के कल्याणक देख पाना संभव नहीं अतः कल्याण पर्वों के शुभ अवसर पर भगवान की भक्ति, पूजन आदि द्वारा पुण्योपार्जन करना चाहिए। 🙏🏻 कुन्थुनाथ भगवान की जय🙏🏻 🙏🏻 गर्भ कल्याणक पर्व की जय🙏🏻
  7. दर्श पाइए अतिशयकारी चतुर्थकालीन नमिनाथ भगवान के जो मध्यप्रदेश के शहडोल ज़िले में विराजमान हैं संभवतः भारत में एकमात्र मंदिर जिसमें नमिनाथ भगवान मूलनायक के रूप में विराजमान हैं 🙏🙏🙏
  8. जय जिनेन्द्र बंधुओं, आज ७ जुलाई, दिन मंगलवार, श्रावण कृष्ण द्वितीया शुभ तिथि को २० वें तीर्थंकर देवादिदेव श्री १००८ मुनिसुव्रतनाथ भगवान का गर्भ कल्याणक पर्व है- 🙏🏻 आज अत्यंत भक्ति-भाव से देवादिदेव श्री १००८ मुनिसुव्रतनाथ भगवान की घर पर ही पूजन कर गर्भ कल्याणक पर्व मनाएँ। ☀️ तीर्थंकरों के जीवन की ऐसी घटना जो अन्य जीवों के कल्याण का आधार बनती हैं कल्याणक कहलाते हैं। वर्तमान में साक्षात में तो भगवान के कल्याणक देख पाना संभव नहीं अतः कल्याण पर्वों के शुभ अवसर पर भगवान की भक्ति, पूजन आदि द्वारा पुण्योपार्जन करना चाहिए। 🙏🏻 मुनिसुव्रतनाथ भगवान की जय🙏🏻 🙏🏻 गर्भ कल्याणक पर्व की जय🙏🏻
  9. केवलज्ञान उत्पन्न होने के पश्चात् गणधर के अभाव में छयासठ (६६) दिन तक भगवान महावीर की दिव्य ध्वनि नहीं हुई। जिस दिन भगवान महावीर की प्रथम देशना हुई भी उसे वीर शासन जयन्ती के रूप में (श्रावण कृ. १) मनाते हैं। आप सभी को वीर शासन जयन्ती (दिव्य ध्वनि दिवस) की हार्दिक शुभकामनाएं
  10. ☀️ भगवान नेमिनाथ मोक्ष कल्याणक पर्व☀️ जय जिनेन्द्र बंधुओं, आज २७ जून, दिन शनिवार, आषाढ़ शुक्ल सप्तमी शुभ तिथि को २२ वें तीर्थंकर देवादिदेव श्री १००८ नेमिनाथ भगवान का मोक्ष कल्याणक पर्व है- 🙏🏻 आज अत्यंत भक्ति-भाव से देवादिदेव नेमिनाथ भगवान की पूजन अत्यंत भक्ति-भाव के करके भगवान का मोक्ष कल्याणक पर्व मनाएँ। 🙏🏻 महामारी के इस समय में देश में अधिकांश नगरों में जिनालय खुल गए हैं लेकिन अनेक स्थानों में अभी भी जिनालय बंद हैं अतः घर पर ही भक्ति-भाव से भगवान का मोक्ष कल्याणक पर्व मनाएँ। 🙏🏻 महामारी के समय में अभी तो नेमिनाथ भगवान की निर्वाण भूमि श्री गिरिनार जी जाना संभव नहीं अतः सभी घर से परोक्ष रूप में निर्वाण भूमि की वंदना करें। 🙏🏻 नेमिनाथ भगवान के निर्वाण कल्याणक पर्व पर हम सभी को संकल्पित होना चाहिए कि हम अधिक-२ से गिरिनार जी की वंदना हेतु जायेगे। 🙏🏻 नेमिनाथ भगवान की जय🙏🏻 🙏🏻 मोक्ष कल्याणक पर्व की जय🙏🏻 🙏🏻 श्री गिरिनार जी सिद्ध क्षेत्र की जय🙏🏻
  11. जय जिनेन्द्र बंधुओं, आज २६ जून, दिन शुक्रवार, आषाढ़ शुक्ल षष्ठी शुभ तिथि को वर्तमान शासन नायक २४ वें तीर्थंकर देवादिदेव श्री १००८ महावीर भगवान का गर्भ कल्याणक पर्व है- 🙏🏻 आज अत्यंत भक्ति-भाव से देवादिदेव श्री १००८ महावीर भगवान की घर पर ही पूजन कर गर्भ कल्याणक पर्व मनाएँ। ☀️ तीर्थंकरों के जीवन की ऐसी घटना जो अन्य जीवों के कल्याण का आधार बनती हैं कल्याणक कहलाते हैं। वर्तमान में साक्षात में तो भगवान के कल्याणक देख पाना संभव नहीं अतः कल्याण पर्वों के शुभ अवसर पर भगवान की भक्ति, पूजन आदि द्वारा पुण्योपार्जन करना चाहिए। 🙏🏻 महावीर भगवान की जय🙏🏻 🙏🏻 गर्भ कल्याणक पर्व की जय🙏🏻 ☀️
  12. जय जिनेन्द्र बंधुओं, आज १५ जून, दिन सोमवार, आषाढ़ कृष्ण दशमी शुभ तिथि को २१ वें तीर्थंकर देवादिदेव श्री १००८ नमिनाथ भगवान का जन्म व तप कल्याणक पर्व है- 🙏🏻 आज अत्यंत भक्ति-भाव से देवादिदेव श्री १००८ नमिनाथ भगवान की घर पर ही पूजन कर जन्म व तप कल्याणक पर्व मनाएँ। ☀️ तीर्थंकरों के जीवन की ऐसी घटना जो अन्य जीवों के कल्याण का आधार बनती हैं कल्याणक कहलाते हैं। वर्तमान में साक्षात में तो भगवान के कल्याणक देख पाना संभव नहीं अतः कल्याण पर्वों के शुभ अवसर पर भगवान की भक्ति, पूजन आदि द्वारा पुण्योपार्जन करना चाहिए। 🙏🏻 नमिनाथ भगवान की जय🙏🏻 🙏🏻 जन्म कल्याणक पर्व की जय🙏🏻 🙏🏻 तप कल्याणक पर्व की जय🙏🏻 🇮🇳 इंडिया नहीं, भारत बोलें🇮🇳 "मातृभाषा अपनाएँ, संस्कृति बचाएँ" ☀️ आगामी विशेष पर्व २७ जून, आषाढ़ शुक्ल सप्तमी को २२ वें तीर्थंकर देवादिदेव श्री १००८ नेमिनाथ भगवान का मोक्ष कल्याणक पर्व।
  13. जय जिनेन्द्र बंधुओं, आज १३ जून, दिन शनिवार, आषाढ़ कृष्ण अष्टमी शुभ तिथि को १३ वें तीर्थंकर देवादिदेव श्री १००८ विमलनाथ भगवान का मोक्ष कल्याणक पर्व तथा अष्टमी पर्व है- आज अत्यंत भक्ति-भाव से श्री विमलनाथ भगवान की पूजन आराधन कर घर पर ही कर मोक्ष कल्याणक पर्व मनाएँ। अष्टमी/चतुर्दशी आदि पर्व के दिनों में विशेष संयम का पालन करना चाहिए क्योंकि पर्व के दिनों का यह संयम विशेष फलदायी होता है तथा अशुभ से बचाता है ऐसा साधु परमेष्ठी बताते हैं। आप सभी को अनंत शुभकामनायें कृपया ध्यान दें भगवान विमलनाथ के मोक्ष कल्याणक संबंधी आषाढ़ कृष्ण षष्ठी तथा आषाढ़ कृष्ण अष्टमी दो तिथियाँ प्रचलन में हैं। पुरानी पूजन में षष्ठी का ही उल्लेख है।
  14. जय जिनेन्द्र बंधुओं, आज ११ जून, दिन गुरुवार, आषाढ़ कृष्ण षष्ठी शुभ तिथि को १२ वें तीर्थंकर देवादिदेव श्री १००८ वासुपूज्य भगवान का गर्भ कल्याणक पर्व है- आज अत्यंत भक्ति-भाव से देवादिदेव श्री १००८ वासुपूज्य भगवान की घर पर ही पूजन कर गर्भ कल्याणक पर्व मनाएँ। 🙏🏻 वासुपूज्य भगवान की जय🙏🏻 🙏🏻 गर्भ कल्याणक पर्व की जय🙏🏻 आप सभी को अनंत शुभकामनायें
×
×
  • Create New...