Jump to content
Sign in to follow this  

About This Club

जैन समाज देवरिया

Category

Regional Samaj

Jain Type

Digambar
Shwetambar

Country

Bharat (India)

State

Uttar Pradesh
  1. What's new in this club
  2. कल्याणक क्षेत्र काकन्दी नाम एवं पता - भगवान पुष्पदन्तनाथ जन्मभूमि, काकन्दी, पो.-काकन्दी, जिला-देवरिया (उत्तरप्रदेश) पिन-274 501 टेलीफोन - 09451097770, 05566-282055, 099562 60218 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - कमरे (अटैच बाथरूम)- 12, कमरे (बिना बाथरूम) - X हाल - 01, गेस्ट हाऊस - 01 यात्री ठहराने की कुल क्षमता - 200. भोजनशाला - है (पूर्व सूचना पर उपलब्ध) एस.टी.डी./ पी.सी.ओ.- मार्केट में है। आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - देवरिया - 17 कि.मी., गोरखपुर - 70 कि.मी. बस स्टेण्ड - देवरिया से खुखुन्दू चौराहा - 17 कि.मी. पहुँचने का सरलतम मार्ग - देवरिया से बस या टेक्सी द्वारा (सलेमपुर रोड़ पर) 2 कि.मी. खुखुन्दु चौराहे से (रिक्शा उपलब्ध) निकटतम प्रमुख नगर - देवरिया से वाहन उपलब्ध । प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - भगवान पुष्पदन्तनाथ जन्मभूमि काकन्दी, दि. जैन तीर्थ क्षेत्र कमेटी अध्यक्ष - स्वस्तिश्री पीठाधीश रवीन्द्रकीर्ति स्वामीजी महामंत्री - श्री अनिलकुमार जैन (कमल मन्दिर), दिल्ली कोषाध्यक्ष - श्री पुष्पदंत जैन (0551-2334071,2334074, 09415283233) मंत्री - श्री पुष्कर जैन, गोरखपुर (09415854018) प्रबन्धक - श्री अनिलकुमार जैन (099562 60218) क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या - 01+ कीर्ति स्तंभ + प्राचीन छोटा मंदिर क्षेत्र पर पहाड़ - टीला है - भगवान पुष्पदन्तनाथ की चरण पादुका है एवं ऊपर छतरी बनी है। ऐतिहासिकता - परम पूज्य, गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी की पावन प्रेरणा से नवमें तीर्थंकर भगवान पुष्पदंतनाथजी की 9 फुट ऊँची पद्मासन प्रतिमा विराजमान की गई है साथ ही सम्पूर्ण तीर्थ का विकास कर भव्य मन्दिर का निर्माण किया गया है। यह पुष्पदन्तनाथ भगवान का गर्भ, जन्म कल्याणक क्षेत्र है। यह स्थान मुनि अभयघोष की निर्वाण स्थली भी है। भगवान की जन्म-जयंती अश्विन शुक्ला एकम् को प्रतिवर्ष मनाते हैं। एक विशाल मंदिर दर्शनीय है। विशेष जानकारी - अब तक की खुदाई में यहाँ अनेक जैन मूर्तियाँ, यक्ष मूर्ति, चैत्य वृक्ष, स्तूप अंश आदि प्राप्त हुए हैं। समीपवर्तीतीर्थक्षेत्र कहाऊँ-17 कि.मी., यहाँ 1700 वर्ष प्राचीन मानस्तम्भ है, अयोध्या-200 कि.मी., वाराणसी -200 कि.मी., भगवान बुद्ध की निर्वाण स्थली कुशीनगर -50 कि.मी. आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें| 
  3. कल्याणक क्षेत्र कहाऊ नाम एवं पता - श्री दिगम्बर जैन तीर्थ क्षेत्र, कहाऊँ, तहसील - सलेमपुर, जिला - देवरिया (उत्तरप्रदेश) पिन - 274 509 टेलीफोन - 0551 - 2500524, 2503280, 2331991, 094152 11822 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - X भोजनशाला - X औषधालय - हैं। पुस्तकालय - हैं। विद्यालय - हैं। एस.टी.डी./पी.सी.ओ.- है। आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - देवरिया - 24 कि.मी. बस स्टेण्ड - सलेमपुर - 7 कि.मी. पहुँचने का सरलतम मार्ग - देवरिया अथवा सलेमपुर से राज्य परिवहन की बस अथवा टैक्सी से। निकटतम प्रमुख नगर - सलेमपुर -7 कि.मी., देवरिया - 24 कि.मी. प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - कहाऊँ तीर्थ क्षेत्र कमेटी, गोरखपुर अध्यक्ष - श्री पुखराज जैन (0551 - 2500524, 2503280) मंत्री - डॉ. अभयकुमार जैन (0551 - 2331991) क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या - 1 क्षेत्र पर पहाड़ - नहीं ऐतिहासिकता - भगवान पुष्पदंतनाथजी की तप एवं ज्ञान कल्याणक भूमि। यहाँ 1700 वर्ष से अधिक प्राचीन मानस्तम्भ है। यह पंच जिनेन्द्र मानस्तम्भ भद्र नामक ब्राह्मण ने गुप्त संवत् 161 में बनवाया था। विशेष जानकारी - (1) तीर्थ पर बने मानस्तम्भ पर ब्राह्मी भाषा में अभिलेख है जो इसकी प्राचीनता की पुष्टि करते हैं। (2) श्री काकन्दी तीर्थ क्षेत्र (17 कि.मी.) पर अत्याधुनिक 6 कमरे (लेटिन/बाथरूम अटैच) रात्रि विश्राम के लिये उपयुक्त हैं। समीपवर्ती तीर्थक्षेत्र पावानगर - 61 कि.मी., काकन्दी - 17 कि.मी., बुद्ध निर्वाण भूमि कुशी नगर-63 कि.मी. आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें| 
  4.  
×
×
  • Create New...