Jump to content
Sign in to follow this  

About This Club

जैन समाज बांसवाडा

Category

Regional Samaj

Jain Type

Digambar
Shwetambar

Country

Bharat (India)

State

Rajasthan
  1. What's new in this club
  2. कला क्षेत्र नौगामा नसियाँजी राजस्थान नाम एवं पता - श्री दि. जैन वाग्वर सम्मेद शिखर पर्वत रचना नसियाँजी, नौगामा, मु. पोस्ट - नौगामा, तह.- बागीदौरा, जिला - बांसवाड़ा (राजस्थान) पिन - 327034 टेलीफोन - 098288 57171, 09414717079 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - कमरे (अटैच बाथरूम)- 2, कमरे (कच्चे पलड़े वाले) - X, हाल - 2 (यात्री क्षमता-100), गेस्ट हाऊस - X यात्री ठहराने की कुल क्षमता - 500. भोजनशाला - चालू है। औषधालय पुस्तकालय - X विद्यालय एस.टी.डी./पी.सी.ओ.- है। आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - दाहोद - 90 कि.मी. बस स्टेण्ड - नौगामा पहुँचने का सरलतम मार्ग - बस अथवा टेक्सी बांसवाड़ा - 24 कि.मी., दाहोद - 90 कि.मी., उदयपुर - 160 कि.मी. प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - श्री सकल दिगम्बर जैन समाज, नौगामा अध्यक्ष - श्री केसरीमल जैन (09414717079) कोषाध्यक्ष - श्री हीरालाल पचोरी (099824 60108) क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या : 03 (2 ग्राम - नौगामा में तथा 1 नसियाँजी में) क्षेत्र पर पहाड़ : नसियाँजी पहाड़ीनुमा है। ऐतिहासिकता : यहाँ पर निर्वाण क्षेत्र श्री सम्मेदशिखरजी की रचना है। नसियाँजी क्षेत्र पुराना है। अतीत में यह क्षेत्र भट्टारक परम्परा में स्थापित हुआ था। विशेष जानकारी : निकट ही ग्राम कलिंजरा में ऐतिहासिक बावन डेरी मन्दिर परिसर में वाग्वर गोम्मटेश भगवान बाहुबली की कमल सहित 15 फुट उत्तुंग अति मनोज्ञ एवं चमत्कारिक प्रतिमा दर्शनीय है। वार्षिक मेला : कार्तिक सुदी 2 समीपवर्ती तीर्थक्षेत्र : अतिशय क्षेत्र अन्देश्वर पार्श्वनाथ - 22 कि.मी., केशरियाजी -160 कि.मी., वाग्वर गोम्मटेश कलिंजरा-15 कि.मी. आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें|
  3. अतिशय क्षेत्र अरथूना नसियाँजी राजस्थान नाम एवं पता - श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र नसियाँजी, अरथूना, ग्राम-अरथूना, तह.- गढ़ी, जिला - बांसवाड़ा (राजस्थान) पिन - 327032 टेलीफोन - मो.: 09413214632, 09680234466 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - कमरे (अटैच बाथरूम) - X कमरे (बिना बाथरूम) - X, हाल - 1 (यात्री क्षमता - 100), गेस्ट हाऊस - X यात्री ठहराने की कुल क्षमता - 100 भोजनशाला - नहीं औषधालय - नहीं पुस्तकालय - है। विद्यालय - नहीं एस.टी.डी./पी.सी.ओ.- है। आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - दाहोद से - 100 कि.मी. बस स्टेण्ड - अरथूना पहुँचने का सरलतम मार्ग - परतापुर - आनन्दपुरी - बांसवाड़ा बसमार्ग निकटतम प्रमुख नगर - बांसवाड़ा - 55 कि.मी. प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - श्री सकल दिगम्बर जैन समाज, अरथूना अध्यक्ष - श्री मानमलजी चौवटीया (09982872927) मंत्री - श्री हीतेश कोठारी (09828962128) प्रबन्धक - सेठ श्री वस्तुपाल शाह (02963-238204) मो.: 9413214632 क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या : 01 क्षेत्र पर पहाड़ : क्षेत्र सुरम्य पहाड़ी के बीच स्थित है। सीढ़ियाँ नहीं है। ऐतिहासिकता : बस्ती से 1 कि.मी. की दूरी पर पाषाण में खुदी हुई 49 खड्गासन/पद्मासन प्रतिमाएँ हैं। इन पर वि.सं. 1100 से 1200 का काल अंकित है। क्षेत्र का अतिशय है। अरथना का इतिहास पुराना है एवं यहाँ काफी पुरातन हिन्दू व जैन मन्दिरों के अवशेष हैं। क्षेत्र पुरातत्व विभाग के अधीन है। समीपवर्ती तीर्थक्षेत्र - अन्देश्वर पार्श्वनाथ - 50 कि.मी., कलिंजरा (वाग्वर गोमटेश) - 40 कि.मी., नौगावां (शिखरजी रचना) - 30 कि.मी., नागफणी पार्श्वनाथ - 140 कि.मी. आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें|
  4. अतिशय क्षेत्र अन्देश्वर पाश्र्वनाथ राजस्थान नाम एवं पता - श्री दिगम्बर जैन अतिशय तीर्थ क्षेत्र अन्देश्वर पार्श्वनाथ, ग्राम-अन्देश्वर तहसील - कुशलगढ़, जिला - बांसवाड़ा (राजस्थान) पिन - 327801 टेलीफोन - 094136 25158, 09929991000 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - कमरे (अटैच बाथरूम) - 10 कमरे (बिना बाथरूम) - 20, हाल - 2 (यात्री क्षमता - 200/100 ), गेस्ट हाऊस - X यात्री ठहराने की कुल क्षमता - 300. भोजनशाला - नियमित, सशुल्क औषधालय - है (ऐलोपैथिक) पुस्तकालय - विद्यालय शासकिय एस.टी.डी./पी.सी.ओ.- है। आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - थांदला रोड़-50 कि.मी., दाहोद-70 कि.मी., रलताम-110 कि.मी. बस स्टेण्ड - व्हाया कुशलगढ़, व्हाया कलिंजरा पहुँचने का सरलतम मार्ग - बांसवाड़ा से व्हाया कलिंजरा, दोहद से व्हाया कलिंजरा एवं थांदला रोड़ से व्हाया कुशलगढ़। निकटतम प्रमुख नगर - कुशलगढ़ - 22 कि.मी., कलिंजरा - 10 कि.मी., बांसवाड़ा - 30 कि.मी. प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - श्री अन्देश्वर पार्श्वनाथ तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट कमेटी, कुशलगढ़ अध्यक्ष - श्री जयंतीलाल शेठ (02965 - 275311) मंत्री - श्री हसमुखलाल शेठ (099299-91000) क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या : 04 एवं चौबीसी क्षेत्र पर पहाड़ : क्षेत्र पहाड़ी पर ही स्थित है। वाहन उपर तक जाते है। ऐतिहासिकता : एक मन्दिर मूलनायक भगवान पार्श्वनाथ का है तथा दूसरा चौबीसी का है। किंवदन्ती के अनुसार मूलनायक की चमत्कारी मूर्ति आदिवासी कृषक को खेत खोदते हुए दृष्टिगोचर हुई व स्थापित की गई। इसीलिये क्षेत्र पर जैन, अजैन बड़ी श्रद्धा भक्ति से वन्दना करते हैं और उनकी यह श्रद्धा है कि इस मूर्ति के दर्शन मात्र से उनकी मनोकामनाएँ पूर्ण होती हैं। मानस्तम्भ एवं काँच मन्दिर दर्शनीय है। वर्ष 2006 में भी चमत्कार हुआ है। कार्तिक पूर्णिमा को मेला भरता है। समीपवर्ती तीर्थक्षेत्र - वागोलजी पार्श्वनाथ - 14 कि.मी., वाग्वर गोमटेश बाहुबली कलिंजरा- 10 कि.मी., वाग्वर सम्मेदशिखर रचना नौगामा - 16 कि.मी.। आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें|
  5. अतिशय क्षेत्र वागोल पाश्र्वनाथ नाम एवं पता - श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र, वागोलजी, तहसील - कुशलगढ़, जिला - बांसवाड़ा (राजस्थान) पिन - 327801 टेलीफोन - 02965-275311,275258, 094136-25158, 094145-95728, 09929991000 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - कमरे (अटैच बाथरूम)- 2, कमरे (बिना बाथरूम) - X, हाल -1, गेस्ट हाऊस - X यात्री ठहराने की कुल क्षमता - 150. भोजनशाला - X आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - थांदला रोड़ - 38 कि.मी. बस स्टेण्ड - चूड़ादा - 3 कि.मी. पहुँचने का सरलतम मार्ग - कुशलगढ़ से बस द्वारा निकटतम प्रमुख नगर - कुशलगढ़ - 8 कि.मी., रतलाम जंक्शन - 98 कि.मी. प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - श्री दिगम्बर जैन बीसपंथी समाज, कुशलगढ़ अध्यक्ष - श्री जयंतीलाल शेठ (02965-275311, 09413625158) मंत्री - श्री हँसमुखलाल शेठ (02965-275258, 09929991000) क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या - 01 क्षेत्र पर पहाड़ - नहीं ऐतिहासिकता - किंवदन्ती के अनुसार श्री सुमतकीर्ति भट्टारकजी महाराज द्वारा यह मन्दिर उड़ाकर लाया गया है। भ. पाश्र्वनाथ की मनोज्ञ सात फण की मूर्ति है। विशेष जानकारी - चैत्र शुक्ला एकम् पर ध्वजारोहण व विविध कार्यक्रमों के साथ वार्षिक मेले का आयोजन होता है। समीपवर्ती तीर्थक्षेत्र केशरियाजी - 150 कि.मी., नागफणि - 130 कि.मी., कुशलगढ़ आदिनाथ-5 कि.मी. अजिंदा पार्श्वनाथ - 200 कि.मी.,अन्देश्वर पार्श्वनाथ - 18 कि.मी. वाग्वर गोमटेश कलिंजरा -28 कि.मी. आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें| 
  6. श्री दिगम्बर जैन धर्मशाला, कुशलगढ़ जिला-बांसवाड़ा (राज.) फोन: 02965-275311 आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस धर्मशाला के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस धर्मशाला में रुके है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें|
  7. परम पूज्य १०८ संत सिरोमणि आचार्य विद्या सागर भगवन के परम प्र्भ्वाक शिष्य पर पूज्य वात्सल्य मूर्ति १०८ समता सागर जी एवं एल्लक श्री १०५ निश्चल सागर जी हाउसिंग बोर्ड बन्स्वारा में विराजमान हे
  8.  
×