Jump to content
Sign in to follow this  

About This Club

जैन समाज शिवपुरी

Category

Regional Samaj

Jain Type

Digambar
Shwetambar

Country

Bharat (India)

State

Madhya Pradesh
  1. What's new in this club
  2. अतिशय क्षेत्र उरवाहा मध्यप्रदेश नाम एवं पता - श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र, उरवाहा ग्राम-उरवाहा, तहसील-नरवर, जिला-शिवपुरी (मध्यप्रदेश) पिन-473 880 टेलीफोन - 07491 - 273249 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - कमरे (अटैच बाथरूम) - X, कमरे (बिना बाथरूम) - 3, हाल - 3 (यात्री क्षमता - 50), गेस्ट हाऊस - X यात्री ठहराने की कुल क्षमता - 50. भोजनशाला - है औषधालय - नहीं पुस्तकालय - नहीं विद्यालय - नहीं एस.टी.डी./पी.सी.ओ.- नहीं आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - बस स्टेण्ड - शिवपुरी - 45 कि.मी., नरवर - 4 कि.मी. पहुँचने का सरलतम मार्ग - सड़क मार्ग शिवपुरी से नरवर एवं नरवर से उरवाहा -4 कि.मी. निकटतम प्रमुख नगर - शिवपुरी - 45 कि.मी. प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र, उरवाहा (नरवर) अध्यक्ष श्री विमलकुमार जैन मंत्री - श्री अरूण कमार जैन (07491 - 273249) प्रचारमंत्री - श्री रामबाबू जैन क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या : 01 क्षेत्र पर पहाड़ : है (200 सीढ़ियाँ है। छोटे वाहन उपर जाते है) ऐतिहासिकता : यह क्षेत्र राजा नल की राजधानी के रूप में पहचाना जाता है। मूलनायक भगवान नेमिनाथ की अति प्राचीन प्रतिमा है। मन्दिर में 13 वीं शताब्दी की अन्य मूर्तियाँ विराजमान हैं। क्षेत्र के विकास हेतू भारत सरकार द्वारा 25 लाख रूपये प्रदान किये गये हैं। भवन निर्माण हो चुका है। हर वर्ष हरियाली अमावस्या पर मेले का आयोजन होता है। भारत सरकार द्वारा भगवान महावीर 2600 वें जन्मकल्याणक के अवसर पर नरवर से उरवाहा तक सड़क डामरीकरण हो चुकाहै। समीपवर्ती तीर्थक्षेत्र - सोनागिरि -85 कि.मी., शिवपुरी - 45 कि.मी. आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें| 
  3. अतिशय क्षेत्र सेसई मध्य प्रदेश नाम एवं पता - श्री शान्तिनाथ (नोगजा) दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र, सेसई (शिवपुरी) ग्राम-सेसई सड़क, पोस्ट - जगतपुर, जिला-शिवपुरी (म.प्र.) 473774 टेलीफोन - 07492-241706, 095892 83006 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - कमरे (अटैच बाथरूम) - X, कमरे (बिना बाथरूम) - 25 हाल - 2 (यात्री क्षमता-50) श्रमण संस्कृति संत भवन गुना की ओर यात्री ठहरने की कुल क्षमता - 250 - 10 कि.मी. भोजनशाला - नहीं , भोजन निर्माण की पृथक से व्यवस्था है। औषधालय - नहीं पुस्तकालय - पूजा पाठ, विधान ग्रंथ आदि है। विद्यालय नहीं एस.टी.डी./ पी.सी.ओ.- है। अन्य - तीन धर्मशालाओं में 30 कमरे है। सुलभ काम्पलेक्स की सुविधा है। ट्यूब-वेल एवं कुआँ भी है। आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - शिवपरी-15 कि.मी. कोलारस - 11 कि.मी बस स्टेण्ड - सेसई - ए.बी. रोड़ पर सभी बसें रूकती हैं। पहुँचने का सरलतम मार्ग - शिवपुरी व कोलारस से समय समय पर टेम्पों व बसें उपलब्ध हैं। निकटतम प्रमुख नगर - शिवपुरी - 13 कि.मी., कोलारस - 10 कि.मी. प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - श्री शान्तिनाथ (नौगजा) दि.जैन अति. क्षेत्रा, सेसई ट्रस्ट समिति(रजि) अध्यक्ष/कोषाध्यक्ष - श्री राजाराम जैन,मे. पारस स्टील (07492-233442) सचिव - श्री गिरनारी लाल जैन, कोलारस क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या : 01 (15 फुट खड्गासन मूर्ति, शांतिनाथ भगवान की एक धातु की मूर्ति) क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं। ऐतिहासिकता : 12वीं शताब्दी की दिगम्बर जैन श्री शांतिनाथ भगवान की 15 फुट की प्राचीन खड्गासन प्रतिमा है। किसी भी प्रकार की मन्नत मांगने पर मनोकामना पूर्ण होती है। समीपवर्ती नगर शिवपुरी से एवं अन्य नगरों के भक्त शिवपुरी होकर प्रायः आते रहते है विधान आदि करते है। शिवपुरी नगर में 6 एवं अंचल में जैन संस्कृति के अनेक स्थल है। समीपवर्तीतीर्थक्षेत्र - गोलाकोट (खनियाँधाना) -100 कि.मी., सुखाया की गढ़ी -20 कि.मी., पचराई अति. क्षेत्र-75 कि.मी., गोपाचल पर्वत, ग्वालियर-125 कि.मी., श्री सिद्धक्षेत्र सोनगिरजी-120 कि.मी. आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें|
  4. अतिशय क्षेत्र पचराई मध्यप्रदेश नाम एवं पता - श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र, पचराईजी, अंतर्गत - श्री शांतिनाथ चौरासी दिगम्बर जैन मंदिर ट्रस्ट कार्यालय खनियांधाना, जिला - शिवपुरी (मध्यप्रदेश) पिन - 473990 टेलीफोन - मो.: 09926730232, 09926784422 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - कमरे (अटैच बाथरूम) - उपलब्ध है, कमरे (बिना बाथरूम)-7 हाल - 1 (यात्री क्षमता - 70), गेस्ट हाउस -४ यात्री ठहराने की कुल क्षमता - 200. भोजनशाला - नहीं (श्री नंदीश्वर जिन मंदिर खनियांधाना में सुविधा है) औषधालय - नहीं पुस्तकालय - नहीं विद्यालय - नहीं एस.टी.डी./ पी.सी.ओ.- है। आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - बसई - 60 कि.मी.(झाँसी-ललितपुर के मध्य) बस स्टेण्ड - पचराई - 300 मीटर पहुँचने का सरलतम मार्ग - सड़क मार्ग व्हाया खनियांधाना 20 कि.मी. अथवा अशोकनगर-60 कि.मी. खनियांधाम एवं ईसागढ़ - कदवाया होकर निकटतम प्रमुख नगर खनियांधाना - 20 कि.मी., अशोक नगर - 62 कि.मी. प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - श्री शांतिनाथ चौरासी दि. जैन मंदिर ट्रस्ट, खनियांधाना अध्यक्ष - श्री नाथूराम जैन कठराया (07497 - 235428) मंत्री - श्री ताराचन्द जैन सिंघई (07497 - 235670) प्रबन्धक - श्री सुनील जैन 'सरल' (09926730232) क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या : 28 क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं ऐतिहासिकता : यहाँ एक ही परकोटे में अतिशययुक्त 28 भव्य जिनालय हैं। मूलनायक भगवान शांतिनाथ, कुंथुनाथ एवं अरहनाथजी की दिव्य प्रतिमाओं सहित अनेक कलात्मक मूर्तियाँ हैं। 11 वीं, 12 वीं एवं 13 वीं शताब्दी में निर्मित ये मन्दिर श्रेष्ठ पाड़ाशाह की देन हैं। मन्दिरजी में विराजित सभी प्रतिमाएँ देशी पाषाण के हीरे के पालिश युक्त हैं जिनमें आज के ग्रेनाइट से भी ज्यादा चमक है। मेला एवं विमानोत्सव प्रतिवर्ष चैत्र बदी नवमी को होता है। गोलाकोट व पचराई की व्यवस्था एक ही ट्रस्ट के आधीन है। अन्य जानकारी : खनियांधाना में भव्य नन्दीश्वर मंदिर एवं 3 जैन मंदिर दर्शनीय है। समीपवर्ती तीर्थक्षेत्र - खनियांधाना-20 कि.मी., गोलाकोट-28 कि.मी., चंदेरी(खन्दारजी)- 70 कि.मी., थूबोनजी - 105 कि.मी., सेरोनजी - 90 कि.मी., पवाजी - 85 कि.मी., आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें|
  5. दर्शनीय क्षेत्र खनियाँधाना मध्यप्रदेश नाम एवं पता - श्री नन्दीश्वर जैन मन्दिर, चेतन बाग, खनियाँधाना ग्राम / तह. - खनियाँधाना, जिला - शिवपुरी (मध्यप्रदेश) पिन - 473990 टेलीफोन - 099262 65955, 099265 20588, 09977644295 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - कमरे (अटैच बाथरूम) -8 (बिना बाथरूम)- 20 हाल - 2 (यात्री क्षमता- 50+40), गेस्ट हाऊस - X यात्री ठहराने की कुल क्षमता - 200 भोजनशाला - है, नियमित (विद्यापीठ के छात्रों के फंड से संचालित) औषधालय - है, शासकीय (ऐलोपैथिक) पुस्तकालय - है। विद्यालय - है (हायर सेकेण्डरी तक) एस.टी.डी./ पी.सी.ओ.- है। आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - बसई - 40 कि.मी. (झाँसी - ललितपुर के मध्य) बस स्टेण्ड - खनियाँधाना - 1 कि.मी. पहुँचने का सरलतम मार्ग - ग्वालियर - 200 कि.मी. झाँसी - 85 कि.मी.,गुना-125 कि.मी अशोक नगर-120 कि.मी.,चंदेरी-55 कि.मी.,ललितपुर-85 कि.मी. निकटतम प्रमुख नगर - खनियाँधाना - 1 कि.मी., शिवपुरी - 115 कि.मी. प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - श्री नेमीनाथ दिगम्बर जैन नया मन्दिर ट्रस्ट, खनियाँधाना अध्यक्ष - श्री नाथूराम जैन 'वैद्य' (07497 - 235825) मंत्री - सुनील जैन 'सरल' (07497-235419, 09977644295) प्रबन्धक - श्री मनीष जैन (099265 20588) क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या : 01 क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं ऐतिहासिकता : (1) खनियाँधाना नगर में दो प्राचीन भव्य जिन मंदिर दर्शनीय हैं। यह एक स्वतंत्र रियासत थी। उस समय में ग्वालियर राज्य में गजरथ चलाने की स्वीकृति नहीं दी जाती थी। यहाँ के महाराजा ने गजरथ चलाने की स्वीकृति दी। तीन गजरथ एक साथ चले थे। इसी स्थान पर नंदीश्वर जिन मंदिर का निर्माण किया है। (2) पंचमेरु एवं नन्दीश्वर मंदिर की रचना अति सुन्दर एवं विशाल रूप में अद्वितीय है। इसमें पंचमेरु के साथ वज्रदन्त जिनालयों की रचना भी की गयी है। श्री नंदीश्वर विद्यालय संचालित है एवं इसी नाम से आवास भी हैं। वार्षिक मेले : समय-समय पर कमेटी के निर्णयानुसार समीपवर्तीतीर्थक्षेत्र - अतिशय क्षेत्र - गोलाकोट - 8 कि.मी., पचराईजी - 20 कि.मी., पवाजी-70 कि.मी., चन्देरी-चौबीसी - 50 कि.मी., थुबोनजी - 75 कि.मी.,माताटीला-बांध - 40 कि.मी., राजघाट-बांध - 50 कि.मी., सोनागिरि - 115 कि.मी. आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें|
  6. अतिशय क्षेत्र गूर मध्यप्रदेश नाम एवं पता - श्री अभिनन्दननाथ दिगम्बर जैन मंदिर ट्रस्ट, गूड़र तहसील - खनियांधाना जिला - शिवपुरी (मध्यप्रदेश)पिन - 473990 टेलीफोन - 07497 - 235479, 235470, मो.: 08989457481 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास - कमरे (अटैच बाथरूम) - X, कमरे (बिना बाथरूम) - 3 हाल - X, गेस्ट हाउस - X यात्री ठहराने की कुल क्षमता - 25. भोजनशाला - नहीं । औषधालय - है (शासकीय एवं आयुर्वेदिक) पुस्तकालय - नहीं विद्यालय - है एस.टी.डी./पी.सी.ओ. - है। आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - बसई - 50 कि.मी. (झांसी - ललितपुर के मध्य) बस स्टेण्ड - खनियांधाना - 8 कि.मी. पहुँचने का - सडक मार्ग व्हाया खनियांधाना होकर निकटतम प्रमुख नगर - खनियांधाना - 8 कि.मी.। प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - श्री अभिनन्दननाथ दि. जैन मन्दिर ट्रस्ट, गूड़र अध्यक्ष -श्री श्यामलाल जैन चौधरी (07497-235479) मंत्री - श्री राजेन्द्रकुमार जैन (099778 00815) प्रबन्धक - श्री अशोककुमार जैन क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या : 01 क्षेत्र पर पहाड़ : नहीं ऐतिहासिकता : 2500 वर्ष प्राचीन अतिशय क्षेत्र श्री गोलाकोट की तलहटी में बसा ग्राम गूडर के जिन मंदिर में मूलनायक प्रतिमा भगवान अभिनन्दननाथ की 12 वीं शताब्दी की हैं। मानस्तम्भ व अन्य प्रतिमाएँ भी काफी प्राचीन हैं। औरंगजेब के आक्रमण के समय इन प्रतिमाओं को अन्य स्थानों पर छिपा दिया गया था। वर्तमान मन्दिर 16 वीं शताब्दी का है जिनमें इन प्रतिमाओं को विराजित किया गया है। सम्पर्क - श्री श्यामलाल जैन चौधरी, खनियाधाना, जिला शिवपुरी-473990 समीपवर्ती तीर्थक्षेत्र - श्री गोलाकोट जी - 2.5 कि.मी., नंदीश्वर जैन मंदिर, खनियांधाना - 8 कि.मी., पचराई - 28 कि.मी., थूबोनजी - 85 कि.मी., चन्देरी, चौबीसी - खन्दारजी - 63 कि.मी. दर्शनीय स्थल - हनुमानखो एवं माता मंदिर आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें|
  7. अतिशय क्षेत्र गोलाकोट मध्यप्रदेश नाम एवं पता - श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र, श्री गोलाकोटजी अंतर्गत - (श्री शांतिनाथ चौरासी दिगम्बर जैन मंदिर ट्रस्ट) कार्यालय - खनियांधाना, जिला - शिवपुरी (मध्यप्रदेश) पिन - 473990 टेलीफोन - मो.: 09926730232, 09926784422 क्षेत्र पर उपलब्ध सुविधाएँ आवास कमरे (अटैच बाथरूम) - X, कमरे (बिना बाथरूम) - 3 हाल - 1 (यात्री क्षमता - 20), गेस्ट हाउस - X यात्री ठहराने की कुल क्षमता - 60. भोजनशाला - नहीं (श्री नंदीश्वर जिन मंदिर खनियांधाना में सुविधा है) औषधालय - नहीं । पुस्तकालय - नहीं । विद्यालय - नहीं एस.टी.डी./पी.सी.ओ. - है। आवागमन के साधन रेल्वे स्टेशन - बसई (बबीना - ललितपुर के मध्य) - 45 कि.मी. बस स्टेण्ड - खनियांधाना - 10 कि.मी., ग्राम - गूड़र - 3 कि.मी. पहुँचने का सरलतम मार्ग - सड़क मार्ग व्हाया खनियांधाना निकटतम प्रमुख नगर - खनियांधाना - 10 कि.मी. प्रबन्ध व्यवस्था संस्था - श्री शांतिनाथ चौरासी दि. जैन मंदिर ट्रस्ट, खनियांधाना अध्यक्ष - श्री नाथूराम जैन कठया (07497 - 235428) मंत्री - श्री ताराचन्द जैन सिंघई (099267 84422) प्रबन्धक - श्री श्यामलाल जैन चौधरी (07497 - 235679) क्षेत्र का महत्व क्षेत्र पर मन्दिरों की संख्या : 02 क्षेत्र पर पहाड़ : है । छोटी पहाड़ी हैं। ऐतिहासिकता : विंध्य पर्वतमाला पर प्रकृति की सुरम्य गोद में स्थित चतुर्थकालीन मन्दिर की दो दालानों में मूलनायक आदिनाथ भगवान की प्रतिमा सहित अनेक दिव्य, भव्य एवं बोलती पाषाण प्रतिमाएँ, भगवान महावीर के शासनकाल के पूर्व की विराजमान हैं। यहाँ अतिशययुक्त बावड़ी का जल पीने से अनेकों रोग दूर होते हैं। मेला एवं विमानोत्सव प्रतिवर्ष 15 जनवरी को होता है। पहाड़ी पर चहारदीवारी में मंदिर हैं, उसमें 119 प्रतिमाएँ हैं जो कि दर्शनीय एवं मनोज्ञ हैं। पत्राचार - श्री सुनील जैन 'सरल', मै, सरल ज्वेलर्स, खनियांधाना - 473990 जिला - शिवपुरी (म.प्र.), (09926730232) समीपवर्ती तीर्थक्षेत्र - पचराई -30 कि.मी.,चंदेरी - 60 कि.मी.,थुबोनजी - 85 कि.मी.,सोनागिरि-130 कि.मी., पवाजी - 65 कि.मी, सेरोनजी - 70 कि.मी., जैन मंदिर - गुड़र - 3 कि.मी., खनियांधाना-10 कि.मी., पंचमेरू नंदीश्वर जिन मंदिर एवं तीन जैन मंदिर दर्शनीय हैं। आपका सहयोग : जय जिनेन्द्र बन्धुओं, यदि आपके पास इस क्षेत्र के सम्बन्ध में ऊपर दी हुई जानकारी के अतिरिक्त अन्य जानकारी है जैसे गूगल नक्षा एवं फोटो इत्यादि तो कृपया आप उसे नीचे कमेंट बॉक्स में लिखें| यदि आप इस क्षेत्र पर गए है तो अपने अनुभव भी लिखें| ताकि सभी लाभ प्राप्त कर सकें|
  8.  

×
×
  • Create New...